bcci-logo
 

Notification


सभी पूर्व खिलाडियों के ध्यानार्थ सूचना.........
8 और 9 अक्टूबर को असंवैधानिक रूप से आहुत चयनकर्ताओं के साक्षातकार में भाग लेने वालों पर की जायेगी कानूनी कार्रवाई जैसा की आप सभी को सूचित है कि 30 अगस्त 2020 को जिला संघो के मांग पर हुई बीसीए की विशेष आम सभा में बीसीए अध्यक्ष राकेश कुमार तिवारी और संयुक्त सचिव कुमार अरविन्द को बर्खास्त किया जा चुका है. राकेश कुमार तिवारी और कुमार अरविन्द पर अपने चहेते व्यक्तियों को बीसीए में संविधान के विरुद्ध, नियमों की अवेलना कर नौकरी पर रख कर मोटी वेतन देकर बीसीए की राशि का बंदरबांट करने सहित अनेक आरोप लगाए गए है, जिसमे चुनाव में फर्जीवारा करना, जिला संघों में संविधान के विरुद्ध जाकर दखलंदाजी करना आदि कई गंभीर मामले प्रकाश में लाये गए हैं. उक्त एस जी एम में 31 जनवरी के बाद किये गए सभी नियुक्तियों को रद्द किया जा चूका है. आप सभी पूर्व सम्मानित खिलाड़ियों को सूचित कर रहा हूँ ये दोनों व्यक्ति कानूनन बीसीए में अपनी पात्रता खो चुके है, अत: इन लोगों के द्वारा किये गए कार्य कलापों की कोई कानूनी वैध्यता नहीं है. 8 और 9 अक्टूबर को बुलायी गयी साक्षातकार (Interview) महज भ्र्म पैदा करने के उद्देश्य से किया जा रहा है, जो की पूरी तरह से असंवैधानिक है. इनलोगों के द्वारा लोकपाल की नियुक्ति संविधान के विरुद्ध की गयी, परिणाम हुआ की पटना उच्य न्यायालय के द्वारा लोकपाल सह नैतिक अधिकारी () के कार्य पर रोक लगा दी गयी. इनलोगों के द्वारा बैंक को गुमराह करके हस्ताक्षर में बदलाव करवाया गया, परिणाम हुआ की बैंक के मुख्य कार्यालय के द्वारा जांचोपरांत बैंक खाते के परिचालन पर रोक लगा दी गयी. उपरोक्त सभी मामलों की सूचना बीसीसीआई को दे दी गयी है. अत : आप सबों सूचित किया जाता है कि इनके द्वारा आहुत 8 और 9 अक्टूबर के कार्यक्रम में हिस्सा नहीं बनें, लेकिन अगर किन्ही के भी द्वारा इस साक्षातकार प्रक्रिया में भाग लेने की सूचना बीसीए को प्राप्त होती है, तो उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जायेगी। आप सबों को सूचित हो कि संवैधानिक रूप से बीसीए में चयनकर्ताओं की नियुक्ति शीघ्र की जाएगी। धन्यवाद संजय कुमार सचिव बिहार क्रिकेट एसोसिएशन पटना, बिहार


Posted on : ( 06-10-2020 )